असम राईफल्स :- गृह और रक्षा मंत्रालय के बीच घमासान क्यों??

2 weeks ago
desiCNN
असम राइफल्स का आईटीबीपी (इंडो-टिबेटन बॉर्डर पुलिस) में विलय करने पर केंद्र सरकार विचार कर रही है। इसे लेकर 2009 में ही चर्चा शुरू हो गई थी। तब से अब तक इस बारे में कैबिनेट कमिटी ऑन सिक्यॉरिटी (सीसीएस) के सात ड्राफ्ट आ चुके हैं। हाल ही सीसीएस का नया ड्राफ्ट आया है जिसमें कहा गया है कि असम राइफल्स का पूरा कंट्रोल गृह मंत्रालय को दिया जाए। अभी असम राइफल्स का प्रशासनिक नियंत्रण तो गृह मंत्रालय के पास है, लेकिन ऑपरेशनल कंट्रोल आर्मी देखती है। आर्मी आईटीबीपी में इसके विलय के खिलाफ है।दो साल पहले यानी 2017 के सीसीएस ड्राफ्ट में कहा गया था कि एक इंडो-म्यांमार बॉर्डर फोर्स बनाई जाए। इस ड्राफ्ट में असम राइफल्स को दो हिस्सों में बांटने की बात थी। कहा गया था कि इसकी 25 बटालियन आईटीबीपी को और 21 बटालियन आर्मी को दे दी जाए और आईटीबीपी व असम राइफल्स की 25 बटालियन मिलकर इंडो-म्यांमार बॉर...........

For More Download the App