इस्लामपुर :- बांग्ला-उर्दू भाषा विवाद और ममता का जेहाद

4 months ago
अम्बाशंकर वाजपेयी
पश्चिम बंगाल के उत्तरी दिनाजपुर जिले के इस्लामपुर के नजदीक पिछले दिनों दारीभीत के एक स्कूल में शांतिपूर्ण छात्र आन्दोलन चल रहा था. आंदोलन की मुख्य माँग यह थी कि स्कूल में बांग्ला शिक्षक की नियुक्ति होनी चाहिए. यह मांग भी लम्बे समय से चल रही थी, लेकिन 20 सितंबर गुरुवार के दिन यह आन्दोलन खूनी संघर्ष में बदल गया और ABVP छात्र संगठन के दो कार्यकर्ताओं राजेश सरकार व तापस बर्मन की पुलिस गोलीबारी से मौत हो गयी, जबकि विप्लव सरकार सहित अन्य कई छात्र गंभीर रूप से घायल हो गए. इन सभी को सिलीगुड़ी के एक अस्पताल में भर्ती करवाया गया. इस छात्र आन्दोलन का मुख्य कारण यह था कि स्थानीय लोगों व वहां के विद्यार्थियों की यह मांग थी कि स्कूल में बांग्लाभाषी अध्यापकों का अभाव है, इसलिए स्कूल को बांग्ला-भाषी अध्यापक मिलने चाहिए. स्कूल सेवा आयोग, पश्चिम बंगाल द्वारा उस स्कूल के लिए एक संस्...........

For More Download the App