ऋग्वेद में वर्णित राजा के गुण और राहुल गांधी के निरंतर झूठ...

2 months ago
desiCNN
लेखक :- राकेश कुमार आर्य ऋग्वेद 6/20 /3 में बहुत सुंदर व्यवस्था राष्ट्रधर्म के बारे में दी गई है । वहां पर राजा के गुणों का वर्णन करते हुए कहा गया है कि राजा शत्रु नाशक हो। बात स्पष्ट है कि राजा किसी भी प्रकार के आतंकवाद और आतंकवादियों का समर्थक न हो , इसके विपरीत राजा का आचरण ऐसा हो कि वह प्रजा को कष्ट देने वाले किसी भी संगठन के प्रति सदा कठोरता का व्यवहार करने वाला हो । वेद का ऋषि कहता है कि प्रजाओं को प्रसन्न रखने में राजा का राजत्व है । दूसरा गुण बताते हुए वेद का ऋषि कहता है कि राजा दूसरों से अधिक ओजस्वी हो । ओजस्वी राजा से ही तेजस्वी राष्ट्र का निर्माण होता है । राजा की ओजस्विता इसमें है कि वह प्रजाजनों को कष्ट देने वाले लोगों के प्रति कठोर उपायों का प्रयोग कर सकता हो। देश की एकता और अखंडता को आहत करने वाले या तोड़ने वाले लोगों के विरुद्ध उसकी वाणी में क्रोध का भाव ह...........

For More Download the App