क्या यरूशलम जैसा "सांस्कृतिक जोश" जगाने में सक्षम होगी अयोध्या??

10 months ago
desiCNN
अयोध्या को यरूशलम जैसी महिमावान धर्मनगरी का रूप देने की बात नब्बे के दशक की शुरुआत में खूब सुनी जाती थी। एक ऐसी जगह, जो भारतीय बहुमत को सदियों से दबोचे हुए पराजय बोध से मुक्त करके उसके भीतर अपनी महान राष्ट्रीय संस्कृति का गौरव जगा दे। अभी जब सुप्रीम कोर्ट के फैसले से कोई तीन दशक लंबा राम मंदिर आंदोलन कृतकार्य हो रहा है, तब सवाल उठना स्वाभाविक है कि अपने बड़े उद्देश्य के यह कितने करीब पहुंच पाया है। बड़ा उद्देश्य, यानी जन्मभूमि मंदिर के निर्माण के क्रम में भगवान श्रीराम को राष्ट्रनायक के रूप में स्थापित करना, और ऐसा करते हुए भारत में कुछ-कुछ इजराइल जैसी सांस्कृतिक राष्ट्रवादी चेतना का विस्फोट, जो इस महादेश को हर क्षेत्र में संसार की अगली पांत में ला खड़ा करे। मोदी युग का हिंदुत्वअयोध्या की छवि पूर्वी उत्तर प्रदेश के एक छोटे से पिछड़े कस्बे की रही है, जहां इन्फ्...........

For More Download the App