तंत्र का रहस्य – भाग 1:- हिन्दू धर्म में तंत्र का स्थान

2 weeks ago
desiCNN
आम भारतीय तंत्र शब्द सुनकर शायद गांजा फूंकते हुए, हाथ में एक खोपड़ी पकडे, शमशान घाट में बैठे हुए कुछ अरुचिकर अनुष्ठान करते हुए खून से लथपथ आंखों वाला एक अव्यवस्थित व्यक्ति की कल्पना करेगा। विदेशी और अंग्रेजी शिक्षित अधिक कुलीन पश्चिमीकृत शहर के लोग तुरंत सेक्स और अवसाद के बारे में सोचेंगे। यदि आप इंटरनेट पर ‘तंत्र’ शब्द गूगल करेंगे, तो आप विभिन्न यौन स्थितियों में “पूर्वी दुनिया” के लोगों की बहुत सारी छवियों को देखेंगे। तंत्र का सभी प्रकार के अनैतिक, दुष्ट और अजीब प्रकार के नाकारात्मक जुडाव हिंदूओं के साथ-साथ गैर-हिंदूओं के मन-मस्तिष्क में घर कर गया और तंत्र को लोग काला-जादू, पशु बलि और अन्य आपत्तिजनक प्रथाओं से जोड़कर देखने लगे हैं।इसके अलावा, “तंत्र सेक्स” और “तंत्र मसाज़” का एक कुटीर उद्योग पश्चिमी देशों, विशेष रूप से संयुक्त राज्य अमेरिका में में विकसि...........

For More Download the App