नव-पपाराजियों की धुलाई पर स्यापा क्यों ?

12 years ago
Super User
कल ही खबर पढी कि ऐश-अभि की शादी का कवरेज करने गये पत्रकारों और सुरक्षाकर्मियों के बीच झडप हुई, कुछ दिन पहले स्टार न्यूज के दफ़्तर पर भी हमला हुआ, जिसे प्रेस पर हमला बताकर कई भाईयों ने निन्दा की...तो भाईयों सबसे पहले तो यह खयाल दिल से निकाल दें कि ये लोग पत्रकार हैं, ये लोग हैं भारत में पनप रही "नव-पपाराजियों" की भीड़, जिसका पत्रकारिता से कोई लेना-देना नहीं है..इन लोगों के लिये भारत और भारत की समस्याएं मतलब है... अमिताभ की मन्दिर परिक्रमा, ऐश-अभिषेक की शादी, क्रिकेट और सचिन तेंडुलकर, या कोई फ़ैशन शो, या कोई बेमतलब का प्यार-अपहरण-हत्या का केस, जिसे घंटों, दिनों, महीनों चबाये रह सकते हैं किसी तथाकथित टीआरपी के नाम पर..इन्हें ना तो यह पता है कि नक्सलियों का आतंक कहाँ तक और कैसे पहुँच गया है, न इन्हें इस बात से कोई मतलब है कि गेहूँ की बम्पर फ़सल के बावजूद उसके दाम बढ रहे हैं, ना ही ये जानते...........

For More Download the App