"ना-पाक" नीयत के कारण, करतारपुर कॉरीडोर भविष्य में सिरदर्द बनेगा...

9 months ago
desiCNN
गुरुनानक देव के 550 वें प्रकाश पर्व के शानदार अवसर उपस्थित हुआ है और 9नवंबर को करतारपुर कॉरिडोर तीर्थ यात्रियों को समर्पित कर दिया गया. करतारपुर कॉरिडोर भारत के तीर्थ यात्रियों को भारत की सरहद पार पाकिस्तान के करतारपुर नगर में स्थित गुरुद्वारा दरबार साहिब के दर्शन कराने ले जाएगा. वर्ष 1998 में वाजपेयी सरकार और नवाज़ शरीफ हुकूमत के मध्य संपन्न हुई वार्ता में करतारपुर कॉरिडोर को निर्मित करने पर बाकायदा विचार-विमर्श किया गया था. किंतु तकरीबन 21 वर्ष के दीर्घ अंतराल के पश्चात नरेंद्र मोदी सरकार और इमरान खान हुकूमत के दौर में 9 नवंबर, 2019 को करतारपुर कॉरिडोर एक वैचारिक प्रस्ताव से हकीक़त बन गया है. एक तरफ बड़ी प्रसन्नता का विषय है कि गुरुनानक देव के भक्तों को करतारपुर कॉरिडोर का बड़ा मनचाहा तोहफा मिल गया है, वहीं दूसरी तरफ प्रबल आशंका है कि करतारपुर कॉरिडोर द्वारा पाकि...........

For More Download the App