महान गणितज्ञ एस. रामानुजन : इनकी कुलदेवी भी इन्हें सदैव मदद करती थीं...

2 months ago
desiCNN
गणित के वो सवाल, जिनका हल नहीं निकाला जा सका हो, उन्हें सुलझाते हुए रामानुजन भूख-प्यास सब भूल जाते। इन्हीं सवालों का हल खोजते हुए उन्हें नींद आ जाती। आधी रात में एकाएक जागकर वे सवाल को चट से ऐसे हल करते मानो कोई मुश्किल रही ही न हो ! उनका कहना था कि रात में उनकी कुलदेवी उन्हें सपने में दर्शन देकर सवालों के जवाब सुझाती हैं ! गणित के एक सवाल को १०० से भी ज्यादा तरीके से हल कर सकनेवाले भारतीय गणितज्ञ श्रीनिवास रामानुजन का जन्मदिन राष्‍ट्रीय गण‍ित द‍िवस के तौर पर मनाया जाता है ! जानें, उनकी जिंदगी से जुडे कुछ दिलचस्प पहलू . . .रामानुजन का जन्म कोयंबटूर के ईरोड गांव में २२ दिसंबर १८८७ को हुआ। बालक रामानुजन के परिवार की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं थी। पिता कपडे की दुकान पर काम करते तो भगवान पर आस्था रखनेवाली मां मंदिर में भजन गाया करती, मंदिर में मिलनेवाले प्रसाद से घर पर एक सम...........

For More Download the App