महाराष्ट्र में अस्सी घंटे चले ड्रामे की राजनीति और अबूझ शरद पवार...

1 week ago
desiCNN
(लेखक :- लिमटी खरे)22 और 23 नवंबर की दर्मयानी रात में महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर जो कुछ हुआ वह अपने आप में अद्भुत और आश्चर्यजनक था। देश खामोश था, सबको इंतजार था सियासी दलों की अगली चाल पर। लोग मान रहे थे कि इक्कसीवीं सदी के दूसरे दशक में भाजपा के अमित शाह जिस तरह चाणक्य की भूमिका में उबर रहे हैं उनका यह दांव खाली नहीं जाएगा, पर मराठा क्षत्रप और पुराने सियासतदार शरद पंवार ने जिस तरह का खेल खेला, उसकी उम्मीद किसी को भी नहीं थी। अब सोशल मीडिया पर चाणक्य के वर्तमान उत्तराधिकारी को लेकर बहस तेज हो गई है।अस्सी के दशक में जब देश में क्रिकेट का जादू लोगों के सर चढ़कर बोल रहा था। उस दौर में एक बाल में क्या हो जाए, कहा नहीं जा सकता था। कमोबेश यही आलम सियासी हल्कों का होता था। इसलिए कहा जाता था कि राजनीति और क्रिकेट में कब क्या हो जाए कहा नहीं जा सकता है।महाराष्ट्र में त्रिशं...........

For More Download the App