मुस्लिम दबाव में पहचान खोती पश्चिम बंगाल की दुर्गा-पूजा

3 months ago
अम्बाशंकर वाजपेयी
कुछ माह पहले रवीश कुमार ने एक “तथाकथित” बहस के दौरान यह पूछ लिया था कि “अगर देश में मुसलमानों की संख्या तेजी से बढ़ती भी रहे, तो इसमें दिक्कत क्या है...”. पश्चिम बंगाल में सत्रह जिले मुस्लिम बहुमत जनसँख्या वाले बन चुके हैं, और वहाँ की जमीनी स्थिति जितनी खतरनाक और जेहादी स्वरूप ले चुकी है... रवीश की बात का जवाब उसी में समाहित है. जैसा कि वर्षों से हम देखते-सुनते-पढ़ते आ रहे हैं, पश्चिम-बंगाल में दुर्गा-पूजा (नवरात्र) का पर्व बड़े धूमधाम एवं भव्य तरीके से मनाया जाता है. इसकी भव्यता व कला को देखने के भारत के विभिन्न प्रान्तों से ही नहीं, बल्कि दुनिया के विभिन्न देशो से भी बड़ी संख्या में लोग आते है. लेकिन पश्चिम बंगाल में जब से ममता बनर्जी अर्थात तृणमूल काँग्रेस पार्टी की सरकार सत्ता में आई है तब से लगातार प्रतिवर्ष दुर्गा पूजा का पर्व विवाद का विषय बनकर रह गया है और यह विवाद हर...........

For More Download the App