शहरों में अकेले रह रहे बुज़ुर्ग कितने सुरक्षित??

2 weeks ago
desiCNN
उन बुजुर्ग दंपती की दोनों संतान अर्थात् बेटा व बेटी विदेश में थे। वहां उच्च शिक्षा प्राप्त करने गए थे कि वहीं के ही होकर रह गए। अब तो उनके विवाह हो गए हैं और उनकी संताने अमेरिकी नागरिक हैं। एक दो साल में महीने भर या कुछ दिनों के लिए मिलने आ जाते हैं। जब तक शारीरिक ताकत मौजूद थी यह बुजुर्ग भी अपनी संतानों के पास दो-तीन महीने रहने के लिए जाते रहे पर अब यह कर पाना असंभव हो गया था।संताने उन्हें बार-बार कहतीं कि अपना सब कुछ ठिकाने लगाकर अब वह उनके पास आ जाएं पर, उन्हें दो-तीन महीने वहां रहने पर होने वाली बोरियत का अनुभव था इसलिए वहां वह स्थाई रूप से रहने जाने में झिझकते थे।बुजुर्ग दंपती दोनों ही अपने समय में अच्छे पदों पर प्रतिष्ठित थे, इसलिए आर्थिक स्थिति तो बहुत संतोषजनक थी। सही समय पर एक अच्छा सुविधाजनक घर बना लिया था। आसपास ही पूर्व के परिचित रहते थे। दोनों के निकट के ...........

For More Download the App