सनातन धर्म एवं वेदों में महिलाओं का उच्च स्थान

1 month ago
desiCNN
हिन्दू धर्म को समझने के लिए उसके प्राचीनतम और आधारभूत धर्मग्रन्थ अर्थात् ऋग्वेद, यजुर्वेद, सामवेद और अथर्ववेद परम प्रमाण माने गए हैं। इन चारों वेदों में उद्धृत पवित्र मन्त्र वास्तव में ईश्वर की वाणी है, जिनके प्रति सभी हिन्दु धर्माबलंबियों की अगाध श्रद्धा और आस्था जुड़ी हुई है। सृष्टि के अनेक रहस्यों को उद्घाटित करता ऋग्वेद चारों वेदों में सबसे प्राचीन है, जिसमें मण्डल, सूक्त और ऋचाएं वर्णित हैं। गद्य और पद्य दोनों से अलंकृत दूसरा यजुर्वेद में यज्ञ कर्म की प्रधानता का उल्लेख मिलता है। उपासना का प्रवर्तक तीसरा सामवेदएक गेय ग्रन्थ है, जो भारतीय संगीत का मूल आधार है। वहीं चौथे अथर्ववेद में गणित, विज्ञान, आयुर्वेद, समाज शास्त्र, कृषि विज्ञान, आदि अनेक विषयों से संबंधित ज्ञान के भण्डार भरे हुए हैं। चारों वेदों में स्त्री और पुरुष से संबंधित अनेक अभिधारणाएं ...........

For More Download the App