सम्पादकीय :- पुस्तक "क्या हिन्दुस्तान में हिन्दू होना गुनाह है"?

8 months ago
desiCNN
क्या हिन्दुस्थान में हिन्दू होना गनाह है?' यह एक ऐसा यक्ष प्रश्न है। जो कि न केवल मुझे अपितु प्रत्येक जागरूक और चिंतनशील देशवासी को व्याकुल और उद्वेलित कर रहा है। इसीलिए यह मात्र मेरी आवाज नहीं बल्कि करोड़ों देश प्रेमी हिन्दुस्थानियों की सामूहिक आवाज है और कहते हैं कि सामूहिक आवाज ईश्वर की आवाज होती है। यही कारण है कि मैंने लिखा है, काल पुरुष पूछ रहा है क्या हिन्दुस्थान में हिन्दू होना गुनाह है? इस सवाल में कितनी व्यथा है? कितनी पीड़ा है? सन् 1947 में अखण्ड हिन्दुस्थान का विभाजन इसी मान्यता पर हुआ कि - हिन्दु-मुसलमान दो विपरीत मान्यताओं का पालन करते हैं इसीलिए दोनों एक साथ प्रेम और शांतिपूर्वक नहीं रह सकते।' इस मान्यता का विरोध भी हुआ परन्तु हिन्दू और मुसलमान के नाम पर हिन्दुस्थान के तीन टुकड़े करके दो मुसलमानों को और एक हिन्दुओं को दे दिया गया। परन्तु क्या वा...........

For More Download the App