स्व,सुषमा और स्व.रेड्डी के बारे में वेंकैया नायडू की रोचक यादें...

1 week ago
desiCNN
महज दस दिनों के भीतर दो बेहतरीन दोस्त एस जयपाल रेड्डी और सुषमा स्वराज का निधन मेरे लिए व्यक्तिगत क्षति है। ये दोनों मेरे सगे भाई-बहन की तरह थे। जयपाल बड़े भाई की तरह और सुषमा छोटी बहन के समान। दोनों आज के समय के कुछ बेहतरीन सांसदों, योग्य प्रशासकों और कुशल वक्ताओं में से थे। दोनों में कई समानताएं भी थीं। समानता इस लिहाज से कि वे दोनों योग्य थे, उन्होंने अपनी-अपनी अक्षमता से लड़ाई लड़ी और सफलतापूर्वक लंबा सार्वजनिक जीवन जिया।पहले बात अक्षमता की। जयपाल पोलियो के शिकार थे, लेकिन उन्होंने इसे कभी खुद पर हावी नहीं होने दिया। अपने शब्दों, कर्मों और उपलब्धियों से उन्होंने ‘दिव्यांगता’ के वास्तविक अर्थों को साकार किया और असाधारण कर्म किए। मैं उनसे पूछा करता था कि यह जताने के लिए कि आप शारीरिक कमी से मजबूर नहीं हैं, क्या आपने कोई सजग प्रयास किया? सवाल को खारिज करते हुए वह ...........

For More Download the App