हेमंत सोरेन के सामने चुनौतियों का पहाड़ और खजाना खाली....

7 months ago
desiCNN
(योगेश कुमार गोयल)हेमंत सोरेन पिछले दिनों झारखण्ड के 11वें मुख्यमंत्री बन गए, वे दूसरी बार राज्य के मुख्यमंत्री बने हैं। हालांकि तीन बड़े दलों के गठबंधन की सरकार को चला पाना उनके लिए इतना आसान नहीं होगा। दरअसल झारखंड विधानभा चुनाव में सोरेन की झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) ने कांग्रेस और राजद के साथ मिलकर चुनाव लड़ा था तथा प्रदेश की सभी 81 विधानसभा सीटों पर हुए चुनाव में सोरेन की अगुवाई में झामुमो-कांग्रेस-राजद गठबंधन ने 47 सीट हासिल करते हुए पूर्ण बहुमत हासिल किया था। झामुमो को 30, कांग्रेस को 16 और राजद को एक सीट मिली हैं। इसके अलावा तीन सीटें जीतने वाली बाबूलाल मरांडी की झाविमो भी गठबंधन सरकार को समर्थन दे रही है। 2014 के चुनाव में सोरेन ने अपने दम पर चुनाव लड़कर झामुमो को 19 सीटों पर जीत दिलाई थी जबकि झाविमो (पी) को 8 तथा कांग्रेस को सिर्फ 6 सीटें मिली थी। उस दौरान भाजपा ...........

For More Download the App