Eclipse of Sun and Moon (World Water Day)

12 years ago
Super User
सूर्यग्रहण, चन्द्रग्रहण और मान्यतायें (जल दिवस पर)  अभी-अभी गत दिनों चन्द्रग्रहण और सूर्यग्रहण दोनों आगे-पीछे ही पडे़ । उज्जैन में चूँकि धर्म का एक विशेष स्थान है और यह धार्मिक नगरी कहलाती है, इसलिये यहाँ के स्थानीय अखबारों और पंडे-पुजारियों से लेकर प्रशासन तक में एक बहस हुई, "शहर को जलप्रदाय किस समय किया जाये ?" भाई लोगों ने तमाम अखबार रंग डाले, हर ऐरे-गैरे का इंटरव्यू भी ले लिया... उसके पीछे का मंतव्य था कि चूँकि लोगों में यह मान्यता है कि ग्रहण के समय पानी नहीं पीना चाहिये ना ही भरना चाहिये, अब ग्रहण सुबह ६.०० बजे से ८.४० तक था, तो क्या पानी का सप्लाय उसके बाद किया जाये, या ६.०० बजे के पहले ही जलप्रदाय कर दिया जाये ? खेद की बात तो यह है कि जिस बात की आज तक कोई वैज्ञानिकता सिद्ध नहीं हुई (हुई हो तो कृपया मुझे लिंक भेजें) कि क्या वाकई ग्रहण के समय पानी में कोई खराबी आ जाती है ? औ...........

For More Download the App