Posts

अल्लाह हमें रोने दो - एक मुस्लिम औरत की व्यथा

या अल्लाह... तुम तो हमें अकेले में चीखने दो और जोर जोर से रोने दो। कहीं एकान्त म ... [Read More]

जहाँआरा बेगम (पाकिस्तान 3 years ago


इस्लामिस्ट को कम्युनिस्ट क्यों अच्छा लगता है

शत्रु का शत्रु मित्र होता है इस सिद्धांत से अक्सर "वामी-इलहामी" कंधे से कंधा म ... [Read More]

Anand Rajadhyaksh 3 years ago


क्या हिंदूवादी संगठन इससे कुछ सीखेंगे?

सभाओं का शौक बचपन से है, जाते रहता हूँ. हाल ही में एक बार पता चला इंद्रेश कुमार ... [Read More]

Anand Rajadhyaksh 3 years ago


बौद्धिक-सांस्कृतिक ब्रेनवॉश कैसे किया जाता है : भाग २

यह घटना एक परिचित के साथ घटी थी, जब गृह प्रवेश के वक्त मित्रों ने नए घर की ख़ुशी ... [Read More]

Pawan Tripathi 3 years ago


चर्च में कैरोल गाने के लिए बनाए जाने वाले हिजड़े

विकलांग करके गवाने की भयावह, घृणित परंपरा ! ये जो विकलांग करवा कर गाना गवाने क ... [Read More]

Anand Kumar 3 years ago